03 मार्च, 2012

मैमथ

जानकारों के अनुसार पृथ्वी पर लगभग 4-5 हजार वर्ष पूर्व हाथी जैसा दिखने वाला लेकिन उससे भी कहीं ज़्यादा विशाल एक जानवर रहता था। उसके दाँत बहुत अधिक बड़े और घुमावदार होते थे और शरीर पर ऊन की तरह लंबे-लंबे बाल होते थे। आम और प्रचलित भाषा में इस जानवर को मैमथ कहा जाता है।
लेकिन मैमथ नाम का यह विशाल और शायद सबसे प्राचीन हाथी आधुनिक सभ्यता की शुरुआत से काफी पहले ही दुनिया से लुप्त हो चुका है।
लेकिन हाल ही में जारी एक विडियो में इस विशालकाय जीव को फिर से या फिर कहें पहली बार देखा गया है और वो भी साफ और स्पष्ट तरीके से पिछले साल गर्मियों में साइबेरिया के स्वायत्त ऑक्रग क्षेत्र चुकोटका में एक सरकारी इंजीनियर ने इस वीडियो को बनाया है। इंजीनियर का कहना है कि किसी निर्माण के काम से वह उस स्थान पर पहुंचा लेकिन जब उसने एक हाथी जैसा दिखने वाले विशालकाय और अद्भुत एक जीव को नदी पार करते देखा तो उसे बहुत हैरानी हुई। इस जीव के बाल रूस के इस इलाके से मिले एक विशाल आकार के हाथी (वोल्ली मैमथ) से मिलता-जुलता है।
पैरानॉर्मल लेखक माइकल कोहेन का कहना है कि बहुत सारे लोगों ने इस क्षेत्र में कुछ विशाल आकार वाले जानवर देखे जाने कि बात कही है, यह अफवाह है या फिर वाकई इसमें कोई सच्चाई है इसकी अभी तक पुष्टि नहीं की गई है। वैसे भी साइबेरिया एक विशाल क्षेत्र है और इसके एक बहुत बड़े क्षेत्र को अब भी पूरी तरह से खोजा नहीं जा सका है जो यह अब भी मनुष्य की पहुँच से अछूता है।
उल्लेखनीय है कि यह विशालकाय जीव 10,000 साल पहले अंतिम हिमयुग के दौरान पाया जाता था, इस हिमयुग का एक छोटा सा हिस्सा साइबेरिया के तट पर वंग्रेल द्वीप के आसपास अब भी है। जानकारों का कहना है कि लगभग 3500 वर्ष पहले तक भी इस जानवर के जिंदा होने का अनुमान लगाया जा सकता है। लेकिन उसके बाद इसके जीवित होने के कोई भी साक्ष्य या जानकारी नहीं हैं।
कुछ वैज्ञानिकों ने यह संभावना जताई है कि मैमथ साइबेरिया में पाए जाते हैं, तो यह संभवतः महानतम खोजों में से एक होगी।